Saturday, 20 June 2015

मेरा परिचय.....

मैं अश्वनी कुमार पटना जिले के ग्रामीण इलाके 'जैतिया' गाँव से आता हूँ। पर वर्तमान में पटना, गुलजारबाग में रहता हूँ, जहाँ से मेरी लेखन के प्रति रुचि जगी। शायद देश की राजनीति के दोहरे चरित्र का बहुत बड़ा योगदान, मुझे यहाँ तक खींच कर लाने में है। जब छोटा था, तब एक सवाल मुझे अक्सर परेशान करता था की, वोट देने से क्या फायदा? पैसे से खरीदकर हर जरूरत का सामान ले आएँगे, ये कौन होते हैं नीतियाँ बनाने वाले? अब हँसी छूटती है जब कोई और बच्चा ऐसा तर्क देता है। मन करता है..... भले ही ले लो ये नेता, उसका संविधान या उसकी नीतियाँ पर, फिर से लौटा दो वही बचपन वाली मासूमियत..... है ना! पेज पर आते रहियेगा.....

No comments:

Post a Comment